डिप टी (अति लघु कथा)

आदत के अनुसार सारे ज़रूरी काम छोड़ कर राहुल के स्टाल पर डिप टी पीने को गया तो वहाँ काउंटर पर एक बहुत ही मासूम सी साँवली लड़की को खड़ा पाया। साँवला रंग मुझे हमेशा अपनी ओर खींचता है । ख़ुद को तो क़ाबू में कर लिया । मगर नज़र पर क़ाबू नहीं कर पा रहा था। जब ज़ब्त हद से गुज़र गया तो आखिर उससे पूछ बैठा । एक्सक्यूज़ मी! आप मेरे साथ चाय पीना पसंद करेंगी । उस अपना मासूम चेहरा मेरी तरफ़ घुमाया। नज़रे ऊंची की और बड़े बेबाक लहजे में कहा , "गेट लॉस्ट!"

No comments:

Post a Comment